Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya 2025 India

Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya Tours Plan?

Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya [ अयोध्या-दर्शन ]. Shree Ramji Ki Nagri Ayodhya, Uttar-Pradesh Mein Saryu Nadi Ke Kinare hai. Balmiki_Ramayan ke Anusaar, Aur ASI Ke Khudai Mein Mile Absesh Se Ke Aadhar Pr Ye Puri Tarah Se Sabit Ho Chucki hai aur Bharat_ki_Supreme_Courtke Niryay SE Janamsthan Shri_ramji_Mandir Nirmaan ke karyaAaarambh ho chucke hai. AUR 2023 ME Nirmaan Karya Puri Hone ke Baad ISME Sabhi Bhakt JO Dharm aur Dharmik Aashtha Rakhte hai, wo Pure Vishwa se aakar, Ayodhya-darshan la Labh Le Payenge.

Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya 2025

क्या अयोध्या वाकई रामजी की जन्मस्थली है ?

क्यूंकि अयोध्या श्रीरामजी की नगरी है यहाँ पर “हिन्दू-धर्म” पे आस्था रखने बालों के लिए, पर्यटन का विशेस अनुभब होगा जब आप यहाँ मौजूद बिभिन्न मंदिर जैसे की हनुमानगढ़ी, बिरला मंदिर, देवकाली, राम की पैड़ी, कनक भवन जायेंगे, तो आपको धर्म सनातन धार्मिक नगरी अयोध्या के महत्व को समझ पायेंगे !

हिन्दू धर्म का इतिहास क्या है कितना प्राचीन है ये हिन्दू ( सनातन ) धर्मं

मानव सभ्यता से भी पुरानी और प्राचीनतम जीवन जीने की पद्धति है जो धर्म से ज्यादा जीवन जीने का मार्ग है! हिन्दू सनातन धर्म में आस्था रखने बाले, धर्म, कर्म, पुनर्जन्म, मोक्ष और इश्वर में अटूट श्रद्धा रखते हैं!

विद्वानों ने वेद की रचना का आरम्भ २००० ई. पू. से माना है ( जो मुख्यतः तीन हैं ऋग्वेद, यजुर्वेद औरसामवेद ) , मान्यता है की वेद का विभाजन श्री_रामजी के जन्म पूर्व पुरुंरवा राजर्षि के समय में हुआ था!


वही एक मान्यता अनुसार कृष्णा के समय में वेद वयास, क्रिश्नाद्विपायण ऋषि ने लिपिबद्ध किया था! [ Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya in India ]

मुख्यतः चार सम्प्रदाय हिन्दू धर्म में आते हैं (१) जो भगवान विष्णु में आस्था रखते हैं उन्हें वैष्णव सम्प्रदाय (२) जो शिवजी को परमेश्वर मानते उन्हें शैव (३) देवी में आस्था रखने बाले को शाक्त (४) जो परमेश्वर के बिभिन्न स्वरूपों को एक सामान ही मानते हैं उन्हें स्मार्त
मानते हैं! प्राचीन काल में इन सम्प्रदायों को मानने वाले आपस में लड़ते रहते थे, और ज्यादातर हिन्दू अपने आप को किसी संप्रदाय से जोड़ कर नही देखते थे! मध्यकाल में सफल कोशिश करके सभी सम्प्रदाय को प्रश्पर आश्रित बताया!


हिन्दू शब्द की विबरण – हिन्दू_शब्द मूलतः फारशी शब्द से आई है जिसका अभिप्राय भारत वर्ष सीमा के मूल और प्राचीन निवासी है!

कैसी होगी हमारी श्री रामजी की नगरी अयोध्या 2023-25 में,

हिन्दूधर्मं के श्रद्धालु के लिए, Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya Darshan करना उनके जीवन में धरती पे स्वर्ग जाने की अनुभूति होगी!

Ayodhya-Mandir-Nirmaan के काम जोरों पर है और चूँकि आस्था और भारत के सांस्कृतिक धरोहर के मुख्य केंद्र के रूप में इसका विकास जारी है जिससे दुनिया के किसी भी क्षेत्र में रहने बाले श्रद्धालु अयोध्या आये और भारत भ्रमण का आनंद प्राप्त करें इसके लिए, अयोध्या मुख्य सड़क, राम मंदिर की ओर जाने वाली सड़क, पंचकोशी परिक्रमा, अयोध्या ग्रीन फील्ड टाउनशिप, “शहर के सभी प्रवेश बिंदुओं पर द्वार”, प्रवेश बिंदुओं पर भक्तों के लिए विश्राम गृह, श्रीराम_अंतर्राष्ट्रीयहवाई-अड्डा, पर्यटनकेंद्र, अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय, सरयू-रिवरफ्रंट, पांच जल निकायों का नवीनीकरण, एक एकीकृत यातायात प्रबंधन प्रणाली, बहु-स्तरीय कार पार्किंग, जानवरों के पुनर्वास की योजना, रिंग रोड और रामायण युग से वृक्षारोपण।

Dr. Kumar Vishwas के, ‘APNE-APNE…APNE RAM‘ / “अपने-अपने-राम”

टैग :

Ayodhya Ram Mandir,Ayodhya ka Ram Mandir, Ayodhya Ramji Mandir Photo,Ayodhya News, Ayodhya Live,Who is the god of Ayodhya, Ram Mandir Ayodhya Which State belongs TO, दुनिया का सबसे पहला धर्म कोन सा है, हिन्दू धर्म की स्थापना कब हुई, हिन्दू शब्द का मतलब क्या है, क्या हिन्दू धर्म के अनुसार इतिहास क्या है! Dharm Sanaatan Dharmik Nagri Ayodhya,
How to Plan to visit Ayodhya, Tours Offer for Ayodhya India, When Ayodhya International Airport Start,
How to visit Jagannath Temple India, Asis top Tourist Spots Find Here